Not Available

Not Available

Not Available

Not Available

यह बड़ी खुशी और संतोष के साथ यह कहा जा रहा है कि मध्य प्रदेश में अशोक नगर जिले में 40,000 की संख्या में मौजूद चंदेरी के बुनकर समुदायों के साथ हो रहा काम अपने आप में एक उदाहरण है। इस समुदाय का सशक्तिकरण व विकास काम के पैटर्न के साथ-साथ इन विश्व प्रसिद्ध बुनकरों की बुनाई प्रथाओं के स्केलिंग के माध्यम से काफी हद तक आ गया है जिसमें वे नई डिजाइन के उपभोग योग्य उत्पादों के बनाने सहित अन्य काम करते हैं। प्रासंगिक सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर का समर्थन जबरदस्त रहा है।

डिजाइन से सशक्तिकरण नये सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से मुख्य रूप से किया जा रहा है, जो वंडर विभ्स सिस्टम (www.wonderweaves.com). के द्वारा बनाया गया है। डिजाइन का समर्थन वंडर विभ्स सिस्टम के डॉबी मास्टर सॉफ्टवेयर के माध्यम से आया है, जो एक अत्यंत परिष्कृत डिजाइन उपकरण है जिससे न केवल योग्य डिजाइनरों के लिए वरन् नौसिखियों जिन्हें बुनाई का बहुत ज्ञान नहीं है, उनकी जरूरतों को भी पूरा करता है। इस्तेमाल किया जाने वाला जैकार्ड मास्टर शायद जैकार्ड बुनाई के लिए सबसे विस्तृत सॉफ्टवेयर है, यह टेरी/पाईल व अन्य जटिल सजावटी कपड़े की तरह की डिजाइन को आकार प्रदान करने में सहायता कर रहा है। जैकड्रा संपादन या छवियों के परिष्करण के लिए कई टूल प्रदान कर रहा है। वंडर विभ्स सिस्टम से तकनीकी व सॉफ्टवेयर समर्थन का प्रभाव चंदेरी में कई गुना दिखता है:

  1. इन सॉफ्टवेयर के उपयोग के साथ चंदेरी के उत्पादों की मांग पिछले दो वर्षों की तुलना में लगभग दोगुना बढ़ गया है।
  2. बुनकरों की आय लगभग दोगुनी हो गयी है।
  3. वर्तमान में चंदेरी डिजाइनों का 95 प्रतिशत इन सॉफ्टवेयर की मदद से तैयार किया जा रहा है।
  4. इन सॉफ्टवेयर के उपयोग के साथ बुनकर एक महीने के 7-8 दिनों के बराबर समय की बचत कर रहे हैं।
  5. एक और प्रभाव उत्पाद तथा अधिक नए डिजाइन पैटर्न के कारण आपूर्ति के लिए बाजार की मांग में वृद्धि के कारण करघे की संख्या में वृद्धि हुई है।

डिजिटल एम्पावरमेण्ट फाउंडेशन (www.defindia.net) इस तथ्य से संतुष्ट है कि वंडर विभ्स सिस्टम से सॉफ्टवेयर के समर्थन से ‘चंदेरी बुनकर आईसीटी संसाधन केन्द्र, जो कि सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार की एक परियोजना है और जिसे डिजिटल एम्पावरमेण्ट फाउंडेशन और मीडिया लैब एशिया चला रहा है, के मुख्य उद्देश्यों को प्राप्त करने में मदद की है। वर्तमान समय में यह परियोजना दूसरे चरण में है। हमें उम्मीद है कि वंडर विभ्स सिस्टम की प्रौद्योगिकी और सहायता सेवा विभाग जब भी आवश्यकता पड़ेगी इसी तरह की गुणात्मक सेवाएं समुदाय को उपलब्ध कराना जारी रखेगा। सादर ओसामा मंज़र संस्थापक निदेशक डिजिटल एम्पावरमेण्ट फाउंडेशन नई दिल्ली


Supported By